Bihar Jati Janganana 2023: बिहार के सभी जिलो में शुरु हुई जाति जनगणना, बिहार में जातीय जनगणना की 10 खास बातें जानें

Bihar Jati Janganana 2023:  बिहार में 7 जनवरी यानी शनिवार से जाति आधारित गणना (caste census in bihar) के पहले चरण का काम शुरू हो रहा है. करीब 5.18 लाख से अधिक कर्मी दो करोड़ 58 लाख 90 हजार 497 परिवारों तक पहुंचेंगे. पहले चरण में सात से 21 जनवरी तक सभी आवासीय परिसर की गिनती होगी. वहां रहने वाले परिवार के मुखिया का नाम अंकित होगा और परिवार के सभी सदस्यों की जानकारी रजिस्टर में दर्ज की जायेगी.

यदि आप भी बिहार राज्य  के रहने वाले है औऱ आपका भी लम्बे समय से यह सवाल रहा है कि, bihar mein janganana kab hoga? तो आपके इस सवाल के साथ ही साथ  जनगणना  को लेकर आपका  इंतजार  भी समाप्त हो चुका है क्योंकि बिहार के सभी जिलो  मे Bihar Jati Janganana 2023 के कार्य को शुरु कर दिया गया है।

आपको बता दें कि, Bihar Jati Janganana 2023  के तहत प्रथम चरण की कार्यवाही  को  7 जनवरी, 2023  से शुरु  किया गया है जो कि,  21 जनवरी, 2023  तक चलेगा और  प्रथम चरण  की  रिपोर्ट तैयार  होने के बाद  बिहार सरकार  द्धारा  दूसरे चऱण  का  शुभारम्ब  किया जायेगा।

Bihar Jati Janganana 2023
Bihar Jati Janganana 2023

Bihar Jati Janganana 2023 – Overview

Name of the ArticleBihar Jati Janganana 2023
Type of ArticleLatest Update
Name of the StateBihar
1st Phase Starts From?7th Jan, 2023
1st Phase Ends From?31st Jan, 2023
2nd Phase Starts From?Announced Soon…
Detailed Information of 1st Phase?Please Read the Article Completely.

Bihar Jati Janganana 2023

बिहार के सभी जिलो में शुरु हुई जाति जनगणना, प्रथम चरण की जाने पूरी जानकारी – Bihar Jati Janganana 2023?

लम्बे  इंतजार और एतबार  के बाद आखिरकार बिहार के सभी जिलो  मे,  जाति जनगणना  की प्रक्रिया को शुरु कर दिया गया है जिसके सभी  मुख्य बिंदुओँ  की जानकारी कुछ इस प्रकार से हैं –

7 जनवरी, 2023  से शुरु हुआ बिहार जाति जनगणना पहले चरण का कार्य

  • बिहार सरकार  द्धारा 7 जनवरी, 2023  से  बिहार  के सभी  जिलो  मे  जाति जनगणना  का कार्य शुरु कर दिया गया है,
  • इस  प्रथम चरण  के तहत केवल घरों / मकानों को गिना जायेगा जिनमे  लोग  रहते है औऱ जो घर बने हुए है लेकिन उनमे लोग नही रहते है उन्हें नहीं  गिना  जायेगा औऱ
  • अन्त मे, आपको बता दे कि,  प्रम चरण  के कार्य को  21 जनवरी, 2023  तक पूरा कर लेने का  लक्ष्य  रखा गया है आदि।

 

प्रथम चरण के कार्य को पूरा करने हेतु की गई विशेष व्यवस्था

  • प्रथम चरण  के तहत पूरे  बिहार राज्य  में  मकानों  की गणना हेतु प्रत्येक 700 की आबादी या फिर 150 घरों पर एक  प्रगणक ( जनगणना करने वाले अधिकारी )  की नियुक्ति की गई है,
  • इसी प्रकार  प्रत्येक 6 प्रगणक ( जनगणना करने वाले अधिकारी )  पर  1 सुपरवाईजर  की नियुक्ति की गई है,
  • मकानों  की गिनती करते  समय सभी  मकानों  पर क्रमवार नंबर अंकित  किया जायेगा और उन्हें  सूचीबद्ध किया जायेगा आदि।

कौन निभायेंगे प्रगणक की जिम्मेदारीपूर्ण भूमिका?

  • यहां पर हम, आपको बता दें कि,Bihar Jati Janganana 2023   के तहत जिन  प्रगणक ( जनगणना करने वाले अधिकारी )  की नियुक्ति कई गई है उनकी भूमिका को मूलतौर पर शिक्षक, लिपिक, मनरेगा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व जीविका आदि निभायेंगे,
  • पूरे बिहार राज्य मे कुल 2 लाख से अधिक कर्मचारीयों को जनगणना कार्य हेतु नियुक्त किया गया है।

कैसे होगी Bihar Jati Janganana 2023 की प्रश्नावली?

  •  यदि आप भी Bihar Jati Janganana 2023  के तहत  जनगणना  करने वाले  अधिकारीयों  द्धारा पूछे जाने वाले सवालों को लेकर चिन्ति है तो हम आपको बता दें कि, इस बिहार जाति जनगणना 2023  के तहत  जनगणना  करने वाली अधिकारीयों द्धारा आपसे 10 से लेकर 12 सवाल  पूछे जा सकते है,

Bihar Jati Janganana 2023 – प्रथम चरण की मुख्य बातें क्या है?

  • बिहार जाति जनगणना 2023  की सबसे मुख्य बात यह है कि, इस  प्रथम चरण  मे केवल मकानों / घरों  को गिना जायेगा,
  • प्रथम चरण  के दौरान केवल उन  मकानों को गिन कर सूचीबद्ध  किया जायेगा जिनमे लोग रह रहे है,
  • प्रथम चरण  को सफलतापूर्वक सम्पन्न करने के लिए  2 लाख से अधिक कर्मचारीयों  को नियुक्त किया गया है,
  • प्रथम चरण  की  जनगणना  के अन्तर्गत ड़क, बांध व नदियों के किनारे रहने वाले को गिना जायेगा औऱ
  • Bihar Jati Janganana 2023 के दूसरे चरण  मे जाकर  नागरिको / लोगो की गिनती  की जायेगी।

Bihar Jati Janganana 2023 – दूसरे चरण की तारीखों का जल्द होगा ऐलान?

  • बिहार सरकार ने, अभी केवल  बिहार जाति जनगणना 2023 के  प्रथम चरण  की  तारीखें  घोषित की है औऱ
  • इसीलिए हम उम्मीद कर सकते है कि,  बिहार सकार  जल्द ही  बिहार जाति जनगणना 2023  के  दूसरे चरण  की तारीखों का ऐलन करेगी आदि।

अन्त, इस प्रकार हमने आप सभी  बिहार  राज्य के नागरिको को  बिहार जाति जनगणना 2023  की  मुख्य न्यू अपडेट्स  के बारे मे बताया ताकि आप इससे पूरी तरह परिचित रहें।

बिहार में जातीय जनगणना की 10 खास बातें जानें:

  • सबसे पहले मकानों की गिनती होगी.
  • सभी मकानों को एक यूनिक नंबर दिया जायेगा.
  • एक मकान में यदि दो परिवार अलग-अलग रहते होंगे, तो उनका अलग-अलग नंबर होगा.
  • एक अपार्टमेंट के सभी फ्लैट का अलग-अलग नंबर दिया जायेगा.
  • जाति गणना के फॉर्म पर परिवार के मुखिया का हस्ताक्षर अनिवार्य होगा.
  • राज्य के बाहर नौकरी करने गये परिवार के सदस्यों की भी जानकारी देनी होगी.
  • जाति गणना में उप जाति की गिनती नहीं होगी.
  • एक फरवरी से परिवारों की आर्थिक स्थिति की भी जानकारी जुटाई जाएगी.
  • प्रखंड में उपलब्ध सुविधाओं की भी जानकारी जुटाई जाएगी. जैसे- रेललाइन, तालाब, स्कूल, डिस्पेंसरी आदि..
  • गणना कार्य में लगाए गए कर्मियों के पास आइ कार्ड होगा. इसपर बिहार जाति आधारित गणना 2022 लिखा होगा.

👇Important Links (महत्वपूर्ण लिंक)👇

More Latest UpdatesClick Here
Join Telegram For More UpdatesJoin Telegram
Pariksha Ki Taiyari OnlineClick Here
Join Youtube For DetailsClick Here
Download Official ApplicationClick Here

निष्कर्ष

बिहार राज्य  के आप सभी पाठको व युवाओं को  हमने इस आर्टिकल में विस्तार से ना केवल Bihar Jati Janganana 2023 के बारे मे बताया बल्कि हमने आपको बिहार जाति जनगणना 2023  से संबंधित सभी प्रमुख जानकारीयों को प्रदान किया ताकि आप इस जनगणना से पूरी तरह परिचित रहें।

FAQ’s – Bihar Jati Janganana 2023

जाति के आधार पर जनगणना कब हुई थी?

वैसे तो सबसे पहले 1881 में जनगणना हुई थी और उसके बाद हर 10 साल में जनगणना होती गयी, लेकिन 1931 के बाद जाति के आधार पर जनगणना के आंकड़ें सामने नहीं आये. 1931 के बाद 1941 को जाति के आधार पर जनगणना तो हुई थी, लेकिन इसके आंकड़ें सार्वजनिक नहीं किए गए.

बिहार में पहली बार जनगणना कब हुआ?

बिहार में पहली बार जनगणना कब हुआ? 1872 ई.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: